1

Examine This Report on bhairav kavach

News Discuss 
वन्दे बालं स्फटिकसदृशं कुण्डलोद्भासिवक्त्रं वैसे तो भैरव कवच का पाठ नित्य पूजा में बोलकर आसानी से किया जा सकता है, यदि कोई विशेष कामना हो, जैसे किसी तंत्र बाधा से रक्षा, परीक्षा में सफलता, चुनाव में विजय आदि तो इस विधि से भैरव कवच का पाठ करें। गोपनीयं प्रयत्नेन https://bookmarktiger.com/story16630379/helping-the-others-realize-the-advantages-of-bhairav-kavach

Comments

    No HTML

    HTML is disabled


Who Upvoted this Story